Connect with us
Friday,03-July-2020

अंतरराष्ट्रीय समाचार

मुलर रिपोर्ट: अमेरिकी कांग्रेस को ‘मध्य अप्रैल’ तक संशोधित संस्करण मिलेगा

Published

on

Robert-Mueller

अमेरिकी अटॉर्नी जनरल विलियम बर ने कांग्रेस से रूसी दखलअंदाजी के संबंध में विशेष वकील रॉबर्ट मुलर की गोपनीय रिपोर्ट के संशोधित संस्करण को मध्य-अप्रैल तक मिलने की उम्मीद करने की बात कही है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, बर ने शुक्रवार को सीनेट और हाउस ज्यूडिशियरी कमेटी में शीर्ष डेमोक्रेट्स और रिपब्लिकन नेताओं को एक पत्र में कहा, “जल्द ही हर कोई खुद इसे पढ़ सकेगा।”

अमेरिकी अटॉर्नी जनरल ने यह भी कहा कि वह एक और दो मई को मुलर की रिपोर्ट को प्रमाणित करने के लिए दोनों पैनलों के समक्ष उपस्थित होने को तैयार हैं।

मुलर ने 2016 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में कथित रूसी हस्तक्षेप की अपनी लगभग दो साल की जांच को पूरा कर पिछले हफ्ते बर को एक रिपोर्ट सौंपी थी।

बर ने रिपोर्ट कांग्रेस को भेजी और रविवार को चार पन्नों के सार को सार्वजनिक किया, जिसमें कहा गया कि 2016 राष्ट्रपति चुनाव अभियान के दौरान ट्रंप और रूसी सरकार के बीच मिलीभगत का कोई सबूत नहीं है।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)

अंतरराष्ट्रीय समाचार

लद्दाख से चीन को मोदी का स्पष्ट संदेश, अब विस्तारवाद का युग समाप्त

Published

on

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को लद्दाख के दौरे के दौरान चीन का नाम लिए बिना उसे स्पष्ट चेतावनी देते हुए कहा अब विस्तारवाद का युग समाप्त हो गया है। सशस्त्र बलों को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, “विस्तारवाद का युग खत्म हो गया है, यह विकास का युग है। इतिहास गवाह रहा है कि विस्तारवादी ताकतें या तो हार गई हैं या उन्हें पीछे हटने के लिए मजबूर होना पड़ा है।”

लद्दाख क्षेत्र में जाकर मोदी द्वारा चीन को दिया गया यह सख्त संदेश बेहद महत्वपूर्ण है, क्योंकि पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में 15 जून की रात भारत व चीनी सेनाओं की बीच हुई हिंसक झड़प के बाद दोनों देशों में सीमा को लेकर तनाव बना हुआ है। इस झड़प में 20 भारतीय जवानों के शहीद होने के बाद दोनों पक्षों में गतिरोध अभी तक खत्म नहीं हो सका है।

भारत द्वारा लद्दाख क्षेत्र में बुनियादी ढांचे को विकसित करने को लेकर चीन चिंतित है। मोदी ने शुक्रवार को संकेत दिया कि भारत इस मुद्दे की दोबारा समीक्षा करने को राजी नहीं है। मोदी ने कहा, “हमने सीमा क्षेत्र में बुनियादी ढांचे के विकास पर तीन गुना खर्च बढ़ाया है।”

मोदी ने गलवान घाटी झड़प में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि भी अर्पित की।

सैनिकों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने भारतीय सीमाओं की रक्षा के लिए उनकी बहादुरी और प्रतिबद्धता के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा, “यह भूमि उनके बलिदानों को याद रखेगी। आपने हर भारतीय को गौरवान्वित किया है।”

मोदी ने लद्दाख के नीमू में सैनिकों से कहा, “लद्दाख से लेकर कारगिल तक आपके साहस को सभी ने देखा है। लद्दाख भारत का ताज है और यह भूमि हमारे लिए पवित्र है। हम देश के लिए अपने जीवन का बलिदान करने के लिए तैयार हैं। दुनिया भारत की ताकत को जानती है, हमारे दुश्मनों के कपटपूर्ण मंसूबे सफल नहीं होंगे।”

उन्होंने यह संदेश भी दिया कि भारत के संयम को अन्यथा नहीं देखा जाना चाहिए। मोदी ने कहा, “हम वो लोग हैं, जो बांसुरी बजाने वाले भगवान कृष्ण की पूजा करते हैं, लेकिन हम वो लोग भी हैं जो भगवान कृष्ण को मानते हैं, जिन्होंने सुदर्शन चक्र धारण किया था।”

मोदी ने लद्दाख क्षेत्र में भारत के सशस्त्र बलों को संबोधित करते हुए कहा कि गलवान के बफीर्ले पानी से लेकर हर पर्वत शिखर तक, सभी भारतीय सैनिकों की वीरता के गवाह हैं। उन्होंने 14 कोर की बहादुरी की प्रशंसा की।

सूत्रों ने कहा कि मोदी शुक्रवार की सुबह लद्दाख पहुंचे और उन्हें नीमू में एक फॉरवर्ड लोकेशन पर सेना, वायु सेना और भारत-तिब्बत सीमा पुलिस द्वारा क्षेत्र की स्थिति के बारे में सूचित किया गया। समुद्र तल से 11,000 फीट की ऊंचाई पर स्थित नीमू दुर्गम इलाके में है, जो जांस्कर रेंज से घिरा हुआ है और सिंधु के तट पर है।

प्रधानमंत्री मोदी, सीडीएस बिपिन रावत और सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवाने ने लेह में सैन्य अस्पताल में घायल सैनिकों के साथ मुलाकात की।

इससे पहले मोदी ने 17 जून को कहा था कि 15 जून की रात गलवान घाटी में पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के सैनिकों के खिलाफ लड़ने वाले 20 सैनिकों द्वारा दिया गया बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा।

उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को लेह की यात्रा करनी थी, लेकिन इस यात्रा को रद्द कर दिया गया। राजनाथ ने बाद में ट्वीट कर बताया कि प्रधानमंत्री लद्दाख जा रहे हैं। वहां प्रधानमंत्री सैनिकों से मिलेंगे जो निश्चित ही उनके मनोबल को मजबूत करेगा।

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय समाचार

चीन ने ब्रिटेन को ‘जवाबी कार्रवाई’ की चेतावनी दी

Published

on

चीन ने कहा है कि अगर ब्रिटेन ने हांगकांग के निवासियों के लिए नागरिकता का रास्ता खोला तो वह भी ‘इसी तरह के उपायों’ के साथ जवाबी कार्रवाई कर सकता है।

चीन के राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के जवाब में ब्रिटेन ने हांगकांग के नागरिकों को ब्रिटेन की नागरिकता देने का फैसला किया है, जिसके बाद से चीन बौखला गया है। इसके बाद अब चीन ने ब्रिटेन को ‘जवाबी कार्रवाई’ की चेतावनी दी है।

बीजिंग में गुरुवार को एक नियमित प्रेस ब्रीफिंग में चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियन ने कहा, “चीन इसकी कड़ी निंदा करता है और आगे के उपाय करने का अधिकार सुरक्षित रखता है। ब्रिटिश पक्ष को सभी परिणामों को भुगतना होगा।”

झाओ की टिप्पणियां ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन और विदेश मंत्री डोमिनिक राब के बाद आईं हैं। दोनों ने कहा है कि ब्रिटेन पूर्व ब्रिटिश उपनिवेश के लगभग 30 लाख निवासियों की पेशकश करने के वादे का सम्मान करेगा, जो ब्रिटिश राष्ट्रीय विदेशी स्थिति (बीएनओ) के साथ ब्रिटेन में बसने का अधिकार रखते हैं।

ब्रिटेन में चीन के राजदूत लियू शियाओमिंग ने भी कहा कि बीएनओ धारकों को निवास देने के लिए कोई भी कदम दोनों देशों के बीच समझौतों का उल्लंघन होगा। उन्होंने कहा, “हांगकांग में रहने वाले सभी चीनी हमवतन चीनी नागरिक हैं, चाहे वे ब्रिटिश आश्रित क्षेत्रों के नागरिकों के पासपोर्ट या ब्रिटिश राष्ट्रीय (विदेशी) पासपोर्ट के धारक हों या नहीं।”

गुरुवार को चीनी दूतावास की वेबसाइट पर पोस्ट किए गए एक बयान में लियू ने कहा, “अगर ब्रिटिश पक्ष संबंधित नियमों में एकतरफा तौर पर बदलाव करेगा तो उससे ना सिर्फ उसकी अपनी स्थिति और संकल्प कमजोर होंगे, बल्कि अंतराष्र्ट्ीय कानूनों और अंतराष्र्ट्ीय संबंधों को परिभाषित करने वाले बुनियादी नियमों का भी उल्लंघन होगा। हम इसका मजबूती से विरोध करते हैं और इसी तरह का जवाबी कदम उठाने का अधिकार सुरक्षित रखते हैं। ब्रिटेन के पास हांगकांग पर कोई संप्रभुता, अधिकार क्षेत्र या ‘पर्यवेक्षण’ का अधिकार नहीं है।”

ब्रिटेन के विदेश कार्यालय के स्थायी सचिव सर साइमन मैकडॉनल्ड ने लियू को तलब किया और उन्हें बीजिंग द्वारा हांगकांग पर नए सुरक्षा कानून लागू करने के बारे में बताया कि उसने चीन-ब्रिटिश संयुक्त घोषणा का उल्लंघन किया है।

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय समाचार

कश्मीर पर पाकिस्तानी विपक्ष ने असफल कूटनीति के लिए इमरान खान की निंदा की

Published

on

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संसद के अपने एक हालिया संबोधन में कहा था कि उनकी सरकार की विदेश नीति की एक सफल कहानी है। खान ने दावा किया था कि वैश्विक मंच पर कश्मीर का मुद्दा जिस मजबूती से उठाया गया है, इससे पहले कभी भी नहीं उठाया गया।

हालांकि, विपक्षी दलों ने इमरान खान के नेतृत्व वाली सरकार को कश्मीर पर कूटनीति में पूरी तरह विफल रहने और कश्मीर मुद्दे पर अफगानिस्तान के साथ समझौता करने को लेकर कड़ी आलोचना की है।

पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी ने मौजूदा विदेश नीति को सफलता की एक कहानी के रूप में पेश करने की कोशिश के लिए सरकार की भर्त्सना की।

उन्होंने कहा, मैं प्रधानमंत्री इमरान खान को उनकी सरकार की विदेश नीति को एक सफलता के रूप में देखने के लिए आश्चर्यचकित हूं। कश्मीर मुद्दे पर पूरी तरह से समझौता किया गया है। कश्मीर पांच अगस्त, 2019 से हमारे हाथों से बाहर है और उनकी सरकार ने इस बारे में कुछ नहीं किया है।

उन्होंने सवाल किया, भारत भारी वोटों के साथ यूएनएससी का अस्थायी सदस्य बन गया और हमारी सरकार की विदेश नीति सुन्न हो गई और मामले में पूरी तरह से अप्रासंगिक हो गई। मैं पूछता हूं कि जब यह तथाकथित सफल कूटनीति सक्रिय थी तो यह कैसे और क्यों हुआ?

पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) के वरिष्ठ नेता ख्वाजा आसिफ ने कश्मीर मुद्दे पर अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से समर्थन हासिल करने में विफलता के लिए सरकार की आलोचना की।

उन्होंने कहा, भारत ने आज कश्मीर पर कब्जा कर लिया है। यह हमारे हाथ से चला गया है और यह इमरान खान के नेतृत्व वाली सरकार की उपस्थिति में हुआ है। भारत बड़े पैमाने पर समर्थन के साथ यूएनएससी का अस्थायी सदस्य बन गया। वे देश, जिनके लिए हमारी सरकार ने दावा किया था कि वे भारत के खिलाफ कश्मीर मुद्दे पर उसके सहयोगी देश हैं, उन्होंने भी भारत का स्पष्ट रूप से पक्ष लिया। प्रधानमंत्री यह दावा करने का साहस दिखा रहे हैं कि उनकी विदेश नीति सफल है। यह एक तमाचा है, एक विफलता है, एक शर्मिदगी है।

पीपीपी की एक अन्य विपक्षी सदस्य शेरी रहमान ने भी सत्ताधारी दल को कश्मीर नीति पर पूरी तरह असफल रहने के लिए घेरा।

इमरान खान सरकार को विपक्षी दलों की गंभीर आलोचना का सामना करना पड़ रहा है, जो देश को चलाने की उनकी क्षमता पर सवाल उठा रहे हैं।

Continue Reading
Advertisement
Shivraj-Singh
राजनीति41 mins ago

शिवराज सरकार के 100 दिन पर भाजपा ने वर्चुअल रैली की

राजनीति51 mins ago

राहुल गांधी ने बिहार कांग्रेस के नेताओं संग चुनाव पर की वर्चुअल चर्चा

LOSANGELES
मनोरंजन2 hours ago

ब्री लार्सन ने प्रशंसकों से जुड़ने के लिए यूट्यूब चैनल लॉन्च किया

sharadanduddhav
महाराष्ट्र2 hours ago

उद्धव और पवार कर रहे बैठक, लॉकडाउन से उपजी असमंजस को अनलॉक करने के लिए

earth
Monsoon2 hours ago

हरियाणा के गुरुग्राम में 4.7 तीव्रता के भूकंप से कांपी धरती, दिल्ली में भी महसूस हुए झटके

Soya-Bean
अनन्य2 hours ago

सोयाबीन की बुआई 398 फीसदी ज्यादा, तमाम खरीफ फसलों का रकबा बढ़ा

Person-death-due-to-corona
खेल2 hours ago

यूएफसी स्टार खबीब के पिता का कोविड-19 के चलते निधन

राजनीति2 hours ago

मुख्यमंत्री योगी देंगे कानपुर शहीदों के परिजनों को एक-एक करोड़ रुपये

Earthquake
Monsoon3 hours ago

दिल्ली-एनसीआर में 4.7 की तीव्रता का भूकंप

राष्ट्रीय समाचार3 hours ago

दिल्ली में कोरोना मामलों में गिरावट : केजरीवाल

Apple
व्यापार3 weeks ago

आईफोन 12 का उत्पादन जुलाई से शुरू होगा : रिपोर्ट

राजनीति1 week ago

मनमोहन ने वित्त मंत्री रहते हुए आरजीएफ को आवंटित किए थे 100 करोड़, बीजेपी हुई हमलावर

lockdown5
महाराष्ट्र4 days ago

31 जुलाई तक के लिए बढ़ा लॉकडाउन महाराष्ट्र में, जानिए क्या हैं शर्तें

ansari
अपराध1 week ago

बाबा रामदेव के खिलाफ अपराधिक मामला दर्ज करने की मांग। लोगों की जान के साथ खिलवाड़ करने की कोशिश

अपराध4 weeks ago

जोधपुर में भी फ्लॉयड जैसी घटना : पुलिस ने मास्क न पहनने पर व्यक्ति की गर्दन दबा दी

uddhav
महाराष्ट्र3 weeks ago

उद्धव ठाकरे ने खारिज की अफवाहें, महाराष्ट्र में फिर से लॉकडाउन नहीं

dhara144
महाराष्ट्र2 days ago

कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए, मुंबई में धारा 144 लागू कर दी गई

mns
महाराष्ट्र6 days ago

MNS अध्यक्ष राज ठाकरे के घर पर काम करने वाले 7 लोग मिले कोरोना पॉजिटिव

uddhavsarkar
महाराष्ट्र5 days ago

महाराष्ट्र में लॉकडाउन प्रतिबंध 30 जून के बाद भी जारी रहेगा : मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे

uddhav
महाराष्ट्र3 weeks ago

स्कूलों के शैक्षिक सत्र को शुरू करने की अनुमति, कई शर्तों का करना होगा पालन : उद्धव ठाकरे

अपराध11 months ago

झोमेटो की महिला ने गाड़ी उठा कर ले जाने पर ट्रैफिक पुलिस को दी गालियां

अपराध11 months ago

मुंबई के भायखला ई वार्ड में स्थित केएसए ग्रांड के 18वें फ्लोर से गिरी लिफ्ट, एक शख्स घायल

अपराध11 months ago

मोबाइल किस तरह लोगों के लिए खतरनांक बनता जा रहा है..देखिए इस वायरल वीडियो में पूरी सच्चाई

सामान्य12 months ago

महाराष्ट्र सुरक्षा गॉर्ड के जवानों की सतर्कता ने बचाई एक वरिष्ठ नागरिक की जान

अनन्य12 months ago

मुंबई में अब शिवसेना नगरसेवक की दबंगई, सरेआम चिकन ट्रक ड्राइवर को पीटा

राजनीति1 year ago

प्रधानमंत्री के नाम पर बनी मोदी मस्जिद की ये है सच्चाई

अपराध1 year ago

सोती मुंबई पुलिस, जागते डांस बार

अपराध1 year ago

मालेगांव के मेयर रशीद शेख ने दी आरटीआई कार्यकर्ता अज्जू अंसारी को दी फोन पर धमकी, कहा मेरे खिलाफ सोशल मीडिया पर लिखना बंद करो..नहीं तो..??

अपराध1 year ago

सपा बिल्डर और पूर्व नगरसेवक के जुल्मों सितम से परेशान ई-वार्ड के लोग, एक निर्माणाधीन इमारत में चोरी की पानी की पाइप लाइन लगाते वक्त टला बड़ा हादसा

अपराध1 year ago

Must Watch Video | मुंबई से सटे पडघा टोल ऑपरेटर की दादागिरी का वीडियो वायरल

रुझान

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com