Connect with us
Saturday,08-August-2020

राष्ट्रीय

जूम पर 13500 खर्च करने की जरूरत नहीं, जियोमीट पर 100 लोग करें मुफ्त वीडियो कॉलिंग

Published

on

Jio

रिलायंस जियो ने जियोमीट नाम से वीडियो कांफ्रेंसिंग के लिए नया ऐप बाजार में उतारा है। जियोमीट में 100 लोग वीडियो कांफ्रेंसिंग से जुड़ सकते हैं, वो भी बिलकुल मुफ्त। जूम ऐप में जहां इसके बेसिक या मुफ्त प्लान में महज 40 मिनट तक वीडियो कांफ्रेंसिंग की जा सकती है, वहीं जियोमीट में 24 घंटे तक ग्रुप में मुफ्त वीडियो कांफ्रेंसिंग की जा सकती है।

जूम ऐप पर फ्री वीडियो कॉलिंग के लिए मात्र 40 मिनट की अवधि दी जाती है और इससे अधिक समय के लिए वीडियो कॉलिंग या कांफ्रेंसिंग करने के लिए ग्राहक को प्रति माह 15 डॉलर का भुगतान करना होता है। यह राशि सालाना 180 डॉलर यानी करीब 13500 रुपये पड़ती है।

जियोमीट पर ग्राहक 24 घंटे तक मुफ्त में बातचीत कर सकते हैं। समयसीमा के कारण जूम पर वीडियो कांफ्रेंसिंग करने वालो को हर 40 मिनट में दोबारा लॉगइन करना पड़ता है। यह ग्राहकों का समय बर्बाद करने के साथ ही उनके लिए एक खराब अनुभव भी है।

उदाहरण के लिए घर से काम (वर्क फ्रॉम होम) के कारण दफ्तर की महत्वपूर्ण बैठक या तो 40 मिनट से पहले समाप्त करनी पड़ती है या फिर दोबारा लॉगइन करना होगा, अन्यथा लंबी कांफ्रेंसिंग के लिए सालाना लगभग 180 डॉलर चुकाने पड़ते हैं। शिक्षा क्षेत्र में भी जहां संसाधन सीमित हैं, वहां जूम ऐप समय का प्रतिबंध ऑनलाइन कक्षाओं में बाधा उत्पन्न कर रहा है।

समयसीमा के अलावा भी जियोमीट सुविधाओं के मामले में जूम पर कहीं भारी पड़ेगा। वीडियो कांफ्रेंसिंग में प्रतिभागी डबल क्लिक करके किसी भी अन्य प्रतिभागी की वीडियो विंडो को बड़ा कर सकते हैं, जबकि जूम में यह सुविधा नहीं है।

इसके अलावा जियोमीट में अगर होस्ट चाहे कि किसी एक संस्था के लोग ही वीडियो कांफ्रेंसिंग में हिस्सा लें तो वह संस्थान की मेल आईडी से लॉगइन कर सकता है। इससे संस्थान के अलावा अन्य कोई भी बैठक का हिस्सा नहीं बन पाएगा। जूम में यह सुविधा भी उपलब्ध नहीं है।

जूम ऐप में अगर आप को अचानक बाहर जाना पड़ जाए और आप चाहते हैं कि आप बिना संपर्क टूटे (डिस्कनेक्ट हुए) लैपटॉप के बजाए मोबाइल पर वीडियो कांफ्रेंसिंग से जुड़े रहें, तो यह संभव नहीं है। जियोमीट पर आप यह आसानी से कर सकते हैं। आप जब चाहें जिस भी डिवाइस से चाहें बिना डिस्कनेक्ट हुए विडियो कांफ्रेंसिंग से जुड़े रह सकते हैं। जियोमीट को किसी भी प्लेटफॉर्म से व किसी भी डिवाइस से एक्सेस किया जा सकता है।

अगर आप मोबाइल से कनेक्टेड है तो जूम ऐप में आप मात्र चार प्रतिभागियों को एक बार में देख सकते हैं और बाकियों को देखने के लिए आपको स्क्रॉल करना पड़ता है, जबकि जियोमीट में एक बार में आठ प्रतिभागियों को देखा जा सकता है।

सुरक्षा के मामले में भी जियोमीट, जूम से बेहतर स्थिति में है। फरवरी और मार्च माह में सरकार की तरफ से जूम को असुरक्षित प्लेटफॉर्म माना गया था।

जियोमीट पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के लिए अब किसी इनवाइट कोड की जरूरत नहीं पड़ेगी। इसकी खास बात यह है कि 100 से अधिक यूजर्स एक बार में जियोमीट पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जुड़ सकते हैं। जियोमीट लगभग सभी तरह के डिवाइस पर बखूबी काम करता है।

जियोमीट को गूगल प्लेस्टोर या एप्पल स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। यह एंड्रॉएड और एप्पल पर समान रूप से काम करता है। जियोमीट माइक्रोसॉफ्ट विंडोस को भी सपोर्ट करता है, इसलिए यूजर्स इसे डेस्कटॉप या लेपटॉप पर भी आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं।

गृह मंत्रालय के साइबर समन्वय केंद्र (सीसीसी) ने 12 अप्रैल को एक एडवाइजरी (सलाह) जारी करते हुए चेतावनी दी थी कि बैठकों के लिए जूम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप्लिकेशन एक सुरक्षित मंच नहीं है।

इस एडवाइजरी में यह उल्लेख किया गया, “जूम मीटिंग प्लेटफॉर्म का सुरक्षित उपयोग निजी व्यक्तियों के लिए है न कि सरकारी कार्यालयों या आधिकारिक उद्देश्य के उपयोग के लिए।”

इसके साथ ही इलेक्ट्रॉनिक्स मंत्रालय के तहत भारतीय कंप्यूटर आपातकालीन प्रतिक्रिया टीम सीईआरटी ने भी जूम ऐप के लिए दो उच्च गंभीरता रेटिंग परामर्श जारी किए हैं।

सीईआरटी ने 30 मार्च की एडवाइजरी में कहा था कि इस मंच का असुरक्षित उपयोग साइबर अपराधियों को संवेदनशील जानकारी तक पहुंचने की अनुमति दे सकता है।

ऐसे समय में जब साइबर सुरक्षा एक प्रमुख मुद्दा बन चुका है और चीनी ऐप्स पर भी प्रतिबंध लगाए गए हैं, यह जियोमीट के लिए बाजार में अपनी मजबूत उपस्थिति दर्ज कराने का एक बेहतरीन मौका है।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)

राष्ट्रीय

कोरोना के कहर के बीच 1 फीसदी साप्ताहिक बढ़त के साथ बंद हुए सेंसेक्स, निफ्टी

Published

on

share bazar

देश में कोरोना के गहराते कहर के बावजूद घरेलू शेयर बाजार बीते सप्ताह के मुकाबले मजबूती के साथ बंद हुआ। प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी में एक फीसदी से ज्यादा की सप्ताहिक बढ़त दर्ज की गई। सप्ताह के आखिरी सत्र में सेंसेक्स 38000 के ऊपर बंद हुआ और निफ्टी भी 1,1200 के ऊपर ठहरा। भारतीय रिजर्व बैंक की द्विमासिक मौद्रिक समीक्षा बैठक में देश की आर्थिक हालात में सुधार लाने के मकसद से लिए गए फैसलों का भी शेयर बाजार पर शेयर देखने को मिला। आरबीआई ने नीतिगत प्रमुख ब्याज दर यानी रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया और बैंकों को कर्ज का पुनर्गठन करने की अनुमति दी जिससे अर्थव्यवस्था में सुधार की उम्मीद है।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स बीते शुक्रवार को पिछले सप्ताह की क्लोजिंग से 433.68 अंकों यानी 1.15 फीसदी की तेजी के साथ 38,040.57 पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक निफ्टी भी 140.60 अंकों यानी 1.27 फीसदी की साप्ताहिक बढ़त के साथ 11,214.05 पर बंद हुआ।

वहीं, बीएसई मिडकैप सूचकांक पिछले सप्ताह के मुकाबले 459.76 अंकों यानी 3.34 फीसदी की जबरदस्त बढ़त के साथ 14,218.87 पर रुका। बीएसई स्मॉलकैप सूचकांक भी 646.93 अंकों यानी 4.97 फीसदी की जोरदार छलांग लगाकर 13, 668. 69 पर जाकर ठहरा।

हालांकि कोरोना के कहर और अमेरिका-चीन तनाव के साये में शुरू हुए सप्ताह के पहले सत्र में बिकवाली के भारी दबाव में घरेलू शेयर बाजार कोहराम का आलम रहा। सेंसेक्स सोमवार को पिछले सत्र से 667.29 अंकों यानी 1.77 फीसदी की भारी गिरावट के साथ 36, 939. 60 पर बंद हुआ जबकि निफ्टी पिछले सत्र से 181. 85 अंक यानी 1.64 फीसदी लुढ़ककर 10,891.60 पर बंद हुआ।

अगले सत्र में भारतीय शेयर बाजार गुलजार रहा। मजबूत विदेशी संकेतों और घरेलू कारकों से तेजी के रुझानों के चलते मंगलवार को जोरदार लिवाली रही जिससे सेंसेक्स पिछले सत्र से 748.31 अंकों यानी 2.03 फीसदी की तेजी के साथ 37,687.91 पर बंद हुआ और निफ्टी 211.25 अंकों यानी 1.94 फीसदी की बढ़त के साथ 11,102.85 पर ठहरा।

कारोबारी सप्ताह के तीसरे सत्र में भारी उतार-चढ़ाव के बीच घरेलू शेयर तकरीबन सपाट बंद हुआ। सेंसेक्स बुधवार को पिछले सत्र से महज 24.58 अंकों यानी 0.07 फीसदी की गिरावट के साथ 37, 663.33 पर बंद हुआए जबकि निफ्टी पिछले सत्र से 6.40 अंकों यानी 0.06 फीसदी की बढ़त के साथ 11,101.65 पर ठहरा।

घरेलू शेयर बाजार में गुरुवार को तेजी का माहौल बना रहा। भारतीय रिजर्व बैंक की मौद्रिक समीक्षा बैठक के नतीजे पर घरेलू शेयर बाजार की प्रतिक्रिया उत्साहवर्धक रही। सेंसेक्स पिछले सत्र से 362.12 अंकों यानी 0.96 फीसदी की तेजी के साथ 38,025.45 पर बंद हुआ जबकि निफ्टी पिछले सत्र से 98.50 अंकों यानी 0.89 फीसदी की तेजी के साथ 11,200.15 पर बंद हुआ।

सप्ताह के आखिरी सत्र में शुक्रवार को भारतीय शेयर बाजार उतार-चढ़ाव के बीच तकरीबन सपाट बंद हुआ। सेंसेक्स पिछले सत्र के मुकाबले महज 15.12 अंकों की बढ़त के साथ 38, 040.57 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 13.90 चढ़कर 11,214.05 पर ठहरा।

Continue Reading

राष्ट्रीय

दक्षिण कोरिया में सैमसंग गैलेक्सी की घड़ी एक्टिव2 में ईसीजी फीचर शामिल

Published

on

Samsung-galaxy

सैमसंग ने आखिरकार दक्षिण कोरिया में गैलेक्सी वॉच एक्टिव2 पर ईसीजी (इलेक्ट्रोकार्डियोग्राम) व्यावहारिकता को सक्रिय कर दिया है। कंपनी को इस साल की पहली तिमाही में ही ईसीजी और फॉल डिटेक्शन फीचर्स को उपलब्ध कराना था, लेकिन इसमें कुछ देरी हो गई।

सैममोबाइल की रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल मई में सैमसंग को इस ईसीजी फीचर के लिए खाद्य सुरक्षा एवं औषधि मंत्रालय से मंजूरी मिली।

यूजर्स को इस ईसीजी का इस्तेमाल करने के लिए घड़ी और इसके साथ पेयर्ड स्मार्टफोन पर सैमसंग हेल्थ मॉनिटर ऐप को डाउनलोड कर इंस्टॉल करना होगा।

यह ईसीजी फीचर गैलेक्सी वॉच एक्टिव2 पर उन्नत सेंसर तकनीक का उपयोग करती है जिसकी मदद से यूजर्स अपने दिल की धड़कन का गति को माप सकेंगे और उसकी जांच-परख कर सकेंगे।

ईसीजी को मापने के लिए यूजर्स को बस एप को ओपेन कर जिस हाथ में स्मार्टवॉच पहनकर रखा है, उसे एक समतल सतह पर रखना होगा और इसके बाद अपने दूसरे हाथ की उंगलियों के छोर को स्मार्टवॉच के ऊपर वाले बटन पर 30 सेकेंड के लिए रखना होगा।

अमेरिका में भी यूजर्स को जल्द ही इस फीचर से रूबरू कराया जाएगा, क्योंकि सैमसंग को पहले ही गैलेक्सी वॉच3 और गैलेक्सी वॉच एक्टिव2 ईसीजी फंक्शन को जारी करने के लिए एफडीए से प्रमाणीकरण मिल चुका है।

Continue Reading

राष्ट्रीय

अडानी इलेक्ट्रिसिटी ने यस बैंक में 202 करोड़ रुपये की हिस्सेदारी बेची

Published

on

अडानी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई लिमिटेड (एईएमएल) ने यस बैंक में 202 करोड़ रुपये मूल्य की अपनी हिस्सेदारी बेच दी है।

एनएसई से प्राप्त आंकड़े के अनुसार, यह बिक्री गुरुवार को एक ओपन मार्केट ट्रांजक्शन के जरिए की गई। एईएमएल ने 15 करोड़ शेयर बेचे, जो यस बैंक में 1.19 प्रतिशत हिस्सेदारी का प्रतिनिधित्व करते हैं और उनका औसत मूल्य 13.45 रुपये प्रति शेयर रहा।

दूसरी तरफ भारतीय जीवन बीमा निगम ने कहा था कि उसने ओपन मार्केट खरीददारी के जरिए अतिरिक्त शेयर खरीदे हैं।

पिछले सप्ताह मूडीज इनवेस्टर्स सर्विस ने उस समय यस बैंक की दीर्घकालिक विदेशी मुद्रा इसुअर रेटिंग को एक बिंदु अपग्रेड कर सीएए1 से बी3 कर दिया था, जब यस बैंक ने जुलाई में एक फालो-ऑन पब्लिक ऑफर में 15,000 करोड़ रुपये जुटा लिए थे।

मूडीज ने कहा कि यस बैंक द्वारा सफलतापूर्वक 50 अरब रुपये की इक्वि टी पूंजी जुटाने से इसकी सॉल्वेंसी मजबूत हुई है और रेटिंग अपग्रेड का यह मुख्य कारण है।

Continue Reading
Advertisement
Delhi-Chief-Minister-Arvind-Kejriwal
अनन्य8 hours ago

12,000 स्टार्ट-अप के साथ वर्ल्ड टॉप-5 की रेस में शामिल होगी दिल्ली

RSS
राजनीति8 hours ago

आरएसएस का नजरिया- पूर्वी और पश्चिमी जर्मनी एक हो सकते हैं तो अखंड भारत क्यों नहीं?

Vikas-Dubey-surrenders-anot
अनन्य8 hours ago

विकास दुबे के एक और साथी ने किया आत्मसमर्पण

nia
अपराध9 hours ago

डीएसपी मामला : जम्मू-कश्मीर में एनआईए ने हिजबुल लिंक की तलाश के लिए छापेमारी की

Facebookv
टेक9 hours ago

फेसबुक का गेमिंग एप को प्रतिबंधित करने के लिए एप्पल पर फूटा गुस्सा

PM Modi (1)
राजनीति9 hours ago

मोदी ने 15 अगस्त तक सफाई अभियान चलाने को कहा

death
अपराध9 hours ago

असम : फिरौती के लिए अगवा किए गए बच्चे की हत्या, 3 गिरफ्तार

America...
अंतरराष्ट्रीय समाचार9 hours ago

अमेरिकी चुनाव को ‘चीन, रूस और ईरान प्रभावित करने की कोशिश कर रहे’

Jamia-Millia-Islamia
अनन्य9 hours ago

जामिया के छात्रों ने जीता ‘स्मार्ट इंडिया हैकथॉन 2020’

Arvind-Kejriwal
राजनीति9 hours ago

नई दिल्ली में बदबू आई तो कंपोस्ट प्लांट बंद करेगी सरकार : केजरीवाल

sannata
महाराष्ट्र4 weeks ago

सड़कों पर सन्‍नाटा, औरंगाबाद में 9 दिनों का जनता कर्फ्यू

vikasdubey
महाराष्ट्र4 weeks ago

शिवसेना ने किया विकास दुबे एनकाउंटर का समर्थन

grnadroad
अपराध4 weeks ago

मुंबई: ग्रांट रोड, बारिश के बीच अचानक ढह गया जर्जर घर का हिस्सा, दो घायल

pyaar
महाराष्ट्र3 weeks ago

पाकिस्तानी लड़की से इतना डुबा प्यार में भूल गया सारी सरहदें, BSF ने बॉर्डर से पकड़ा

corona (1)
अपराध4 weeks ago

दुनियाभर में कोविड-19 के मामले हुए 1.24 करोड़

Corono-Virus-Scare...
अपराध4 weeks ago

भारत में कोविड-19 के 26 हजार से अधिक नए मामले सामने आए

fire
अपराध4 weeks ago

दिल्ली गेट पर आग लगने से एक की मौत

Coronavirus
महाराष्ट्र4 weeks ago

कोरोना से संक्रमितों की कुल संख्या 88,000 के पार, 68 और लोगों की मौत : मुंबई

Sambit-Patra
राजनीति3 weeks ago

भाजपा ने राजस्थान में नेताओं के फोन टैपिंग की उठाई सीबीआई जांच की मांग

JAKARTA
Monsoon3 weeks ago

इंडोनेशिया में बाढ़, 21 की मौत

अपराध12 months ago

झोमेटो की महिला ने गाड़ी उठा कर ले जाने पर ट्रैफिक पुलिस को दी गालियां

अपराध1 year ago

मुंबई के भायखला ई वार्ड में स्थित केएसए ग्रांड के 18वें फ्लोर से गिरी लिफ्ट, एक शख्स घायल

सामान्य1 year ago

महाराष्ट्र सुरक्षा गॉर्ड के जवानों की सतर्कता ने बचाई एक वरिष्ठ नागरिक की जान

अपराध1 year ago

सोती मुंबई पुलिस, जागते डांस बार

अपराध1 year ago

सपा बिल्डर और पूर्व नगरसेवक के जुल्मों सितम से परेशान ई-वार्ड के लोग, एक निर्माणाधीन इमारत में चोरी की पानी की पाइप लाइन लगाते वक्त टला बड़ा हादसा

अपराध1 year ago

Must Watch Video | मुंबई से सटे पडघा टोल ऑपरेटर की दादागिरी का वीडियो वायरल

राजनीति1 year ago

Watch Video | एनसीपी नेता सचिन भाऊ अहिरे ने की कांग्रेस विधायक अमीन पटेल से धक्कामुक्की

अपराध1 year ago

ऑनलाइन ठगी का नया तरीका, तीन हज़ार की मोबाइल का लालच देकर मुंबई के एक शख्स से लूटे 52 हज़ार रूपये

अपराध1 year ago

Watch Video: हिरा ग्रुप विक्टिम्स एसोसिएशन के अध्यक्ष को पाकिस्तानी मौलाना ने दी जान से मारने की धमकी

बॉलीवुड1 year ago

मुंबई के दर्शकों को पसंद आई कार्तिक आर्यन और कृति सेनन की लुका छिपी

रुझान

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com