Connect with us
Wednesday,23-June-2021

सामान्य

सरकार के साथ किसानों की अगली वार्ता 30 दिसंबर को दोपहर दो बजे

Published

on

FARMER

केंद्र सरकार ने नये कृषि कानून समेत किसानों की अन्य समस्याओं के समाधान के लिए किसान संगठनों को अगले दौर की वार्ता के लिए 30 दिसंबर को दोपहर दो बजे आमंत्रित किया है। इससे पहले किसान संगठनों ने सरकार के पास 29 दिसंबर को पूर्वाह्न् 11 बजे वार्ता का प्रस्ताव भेजा था। सरकार की ओर से यह आमंत्रण-पत्र सोमवार को किसान संगठनों को मिलने से पहले से ही उनकी सिंघु बॉर्डर पर बैठक चल रही है और बैठक में इस पर विचार-विमर्श करेंगे। हालांकि बैठक में शामिल होने से पूर्व डॉ. दर्शनपाल ने आईएएनएस के एक सवाल पर कहा कि अगले दौर की वार्ता के दौरान किसान संगठनों की ओर से प्रस्तावित सभी चार मुद्दों पर बातचीत होगी, लेकिन मुख्य फोकस तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग पर रहेगा।

सरकार की ओर से किसान संगठनों को अगले दौर की वार्ता के लिए यह आमंत्रण पर केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय में सचिव संजय अग्रवाल ने भेजा है।

पत्र में कृषि सचिव ने संयुक्त मोर्चा द्वारा दिनांक 26.12.2020 को प्रेषित ई-मेल के संदर्भ में किसान नेताओं से कहा, “आपने भारत सरकार का बैठक हेतु अनुरोध स्वीकार करते हुए किसान संगठनों के प्रतिनिधियों एवं भारत सरकार के साथ अगली बैठक हेतु समय संसूचित किया है। आपके द्वारा अवगत कराया गया है कि किसान संगठन खुले मन से वार्ता करने के लिए हमेशा तैयार रहे हैं और रहेंगे। भारत सरकार भी साफ नीयत और खुले मन से प्रासंगिक मुद्दों के तर्कपूर्ण समाधान करने के लिए प्रतिबद्ध है।”

कृषि सचिव ने आगे कहा कि इस बैठक मे आपके द्वारा प्रेषित विवरण के परिप्रेक्ष्य में तीनों कृषि कानूनों एवं एमएसपी की खरीद व्यवस्था के साथ राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र और आसपास के क्षेत्रों में वायु गुणवत्ता प्रबंधन के लिए आयोग अध्यादेश, 2020 एवं विद्युत संशोधन विधेयक 2020 में किसान से संबंतिधत मुददों पर विस्तृत चर्चा की जाएगी।

पत्र में किसान संगठनों को 30 दिसंबर को दोपहर दो बजे विज्ञान भवन में वार्ता के लिए आमंत्रित किया गया है।

संयुक्त किसान मोर्चा के बैनर तले करीब 40 किसान संगठनों के नेताओं की अगुवाई में दिल्ली की सीमा स्थित सिंघु बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर और गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों के आंदोलन का सोमवार को 33वां दिन है और सिंघु बॉर्डर शाम में होने वाली बैठक में शामिल होने से पहले क्रांतिकारी किसान यूनियन पंजाब के डॉ. दर्शनपाल ने आईएएनएस से कहा कि सरकार अगले दौर की प्रस्तावित वार्ता में अगर सरकार तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने को तैयार नहीं होगी तो उनका यह संघर्ष जारी रहेगा।

आंदोलनकारी किसान संगठनों के नेता कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) कानून 2020, कृषक (सशक्तीकरण एवं संरक्षण) कीमत आश्वासन और कृषि सेवा करार कानून 2020 और आवश्यक वस्तु (संशोधन) कानून 2020 को निरस्त करने की मांग कर रहे हैं। संसद के मानसून सत्र में पेश तीन अहम विधेयकों के दोनों सदनों में पारित होने के बाद इन्हें सितंबर में लागू किया गया। हालांकि इससे पहले अध्यादेश के आध्यम से ये कानून पांच जून से ही लागू हो गए थे।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)

सामान्य

12वीं बोर्ड के रिजल्ट हेतु सीबीएसई का पोर्टल

Published

on

CBSE

 बारहवीं बोर्ड के अंकों का सारणीकरण करने के लिए एक पोर्टल विकसित किया गया है। यह पोर्टल सीबीएसई के आईटी विभाग ने बनाया है। बारहवीं कक्षा का रिजल्ट तैयार करने में यह पोर्टल स्कूलों की सहायता करेगा। सीबीएसई के निदेशक (आईटी) डॉ. अंतरिक्ष जौहरी के अनुसार सभी अंकों का संग्रह करने के बाद, यह पोर्टल स्कूल के लिए संपूर्ण अंक सारणी प्रदर्शित करेगा। विषय-वार अंक स्कूलों द्वारा मॉडरेशन के लिए उपलब्ध होंगे। स्कूलों के लिए अंकों की यह गणना काफी बोझिल हो सकती थी। इस पोर्टल और बैकएंड सिस्टम ने स्कूलों के बहुत बड़े बोझ को कम किया है।

इस पोर्टल में स्कूल छात्रों के आंतरिक ग्रेड अपलोड कर सकेंगे। प्रक्टिकल्स, प्रोजेक्टस, आंतरिक मूल्यांकन अंक अपलोड करने की सुविधा होगी। साथ ही स्कूलों को बारहवीं कक्षा के रिजल्ट का इंतजार कर रहे छात्रों का कक्षा 10 का रोल नंबर, बोर्ड और वर्ष की जानकारी भी डालनी होगी।

इस पोर्टल में स्कूलों के बीते वर्षों का प्रदर्शन, कक्षा 11की अंक डेटा प्रविष्टि, कक्षा 12 की अंक डेटा प्रविष्टि अपलोड करनी होगी। साथ ही जांच के लिए बारहवीं कक्षा की पूर्ण सारणी, थ्योरी मार्क्‍स आदि उपरोक्त गतिविधियों का एक क्रम भी तैयार किया गया है।

स्कूलों को लॉजिस्टिक सहायता प्रदान करने के लिए इस नवीनतम आईटी पहल का स्वागत किया गया है और देश भर के स्कूलों द्वारा व्यापक रूप से इसकी सराहना की गई।

सीबीएसई ने आधिकारिक रूप से एक नोटिस जारी करते हुए कहा कि दसवीं कक्षा के अंकों के आधार पर गणना के लिए एक प्रणाली भी विकसित की गई है। दसवीं कक्षा पास करने वाले छात्रों के मामले में सीबीएसई क्षेत्रीय कार्यालयों की मदद से परिणाम डेटा एकत्र करेगा।

सीबीएसई द्वारा सभी हितधारकों से व्यापक परामर्श के बाद एक नीति अपनाई गई है। इसके तहत अंतिम परिणाम की गणना करते समय, कक्षा 10 के 3 सबसे अच्छे थ्योरी विषयों के अंकों का औसत, कक्षा 11 की थ्योरी के 30 फीसदी का वेटेज व कक्षा 12वीं की थ्योरी का 40 फीसदी वेटेज लिया जाएगा। प्रैक्टिकल में दिए गए अंक जैसे हैं, वैसे ही लिए जाएंगे।

सीबीएसई के 10वीं बोर्ड का रिजल्ट 20 जुलाई और बारहवीं कक्षा के छात्रों का परिणाम 31 जुलाई तक घोषित कर दिया जाएगा।

Continue Reading

सामान्य

चेन्नई के चिड़ियाघर में 4 शेरों में पाया गया कोविड-19 का डेल्टा वेरिएंट

Published

on

Lion

 अरिग्नार अन्ना जूलॉजिकल पार्क (वंडलूर चिड़ियाघर) में चार शेर कोरोनावायरस के संक्रामक डेल्टा वेरिएंट से पीड़ित हैं। चिड़ियाघर प्रशासन ने यह जानकारी दी है। वंडलूर चिड़ियाघर के अधिकारियों के अनुसार, चिड़ियाघर ने 11 शेरों के नमूने आईसीएआर-राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान (एनआईएचएसएडी), भोपाल को भेजे थे।

नमूनों की जांच के बाद एनआईएचएसएडी ने कहा कि नौ शेर सार्स सोओवी-2 यानी कोरोनावायरस से संक्रमित हैं। संक्रमण से पीड़िता शेरों का सक्रिय उपचार चल रहा है।

वंडलूर चिड़ियाघर ने एनआईएचएसएडी से शेरों को संक्रमित करने वाले सार्स सीओवी-2 वायरस के जीनोम सीक्वेंसिंग के परिणामों को साझा करने का अनुरोध किया था।

एनआईएचएसएडी के अनुसार, चार नमूनों की जीनोम सीक्वेंसिंग पैंगोलिन वंश बी.1.617.2 से संबंधित पाई गई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के नामकरण के अनुसार इनमें डेल्टा वेरिएंट पाया गया है।

चिड़ियाघर ने कहा कि 11 मई को, डब्ल्यूएचओ ने बी.1.617.2 वंश को वेरिएंट ऑफ कंसर्न यानी चिंता का एक प्रकार (वीओसी) के रूप में वगीर्कृत किया था और कहा था कि यह उच्च संचरण क्षमता और कम तटस्थता का सबूत दिखाता है।

चूंकि डेल्टा वेरिएंट काफी तेजी से अन्य जानवरों में संक्रमित कर सकता है, इसलिए अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है।

इस बीच, तमिलनाडु सरकार ने टाइगर रिजर्व, राष्ट्रीय उद्यानों, वन्यजीव अभयारण्यों रिजर्व फॉरेस्ट और अन्य जगहों पर जंगली और बंदी जानवरों में कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम और शमन के बारे में अधिकारियों को सहायता और मार्गदर्शन प्रदान करने के लिए एक राज्य स्तरीय टास्क फोर्स का गठन किया है।

राज्य स्तरीय टास्क फोर्स का नेतृत्व सरकार, पर्यावरण, जलवायु परिवर्तन और वन विभाग की प्रमुख सचिव सुप्रिया साहू करेंगी और इसमें छह सदस्य शामिल होंगे।

Continue Reading

सामान्य

अध्ययन से पता चलता है, ग्रे मैटर लॉस पोस्ट-कोविड संक्रमण के बारे में

Published

on

corona

शोधकर्ताओं का कहना है कि एक बार कोविड -19 से संक्रमित लोगों के मस्तिष्क स्कैन का विश्लेषण समय के साथ ग्रे पदार्थ के नुकसान में एक सुसंगत पैटर्न का सुझाव देता है। ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय से संबद्ध शोधकर्ताओं ने यूके बायोबैंक के डेटा पर आरेखण करते हुए, मेडरेक्सिव को सहकर्मी समीक्षा से पहले निष्कर्ष पोस्ट किए।

लेखकों ने लिखा, “हमारे निष्कर्ष इस प्रकार लगातार प्राथमिक घर्षण और स्वाद प्रणाली से जुड़े लिम्बिक कॉर्टिकल क्षेत्रों में भूरे रंग के पदार्थ के नुकसान से संबंधित हैं” या मस्तिष्क में गंध और स्वाद की धारणा से संबंधित क्षेत्र हैं।

फॉक्स न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, टीम ने 394 कोविड-19 रोगियों और 388 मिलान नियंत्रणों के बीच लगभग तीन साल बाद लिए गए ब्रेन स्कैन की तुलना प्री-महामारी से की।

आगे के विश्लेषण में अस्पताल में भर्ती नहीं होने वाले 379 लोगों की तुलना में 15 अस्पताल में भर्ती मरीज शामिल थे।

शोधकतार्ओं ने कहा कि महामारी से पहले किए गए स्कैन के शुरूआती सेट निष्कर्षों को मजबूत करते हैं, क्योंकि वे मरीजों की पहले से मौजूद स्वास्थ्य स्थितियों से कोविड -19 रोग के प्रभावों को अलग करने में मदद करते हैं।

टीम ने कहा कि कोविड -19 रोगियों के बीच ग्रे पदार्थ की मोटाई और मात्रा में ‘महत्वपूर्ण नुकसान’ का खुलासा करने वाले तीन क्षेत्र ‘पैराहिपोकैम्पल गाइरस, लेटरल ऑर्बिटोफ्रंटल कॉर्टेक्स और बेहतर इंसुला’ थे, बाद में उन्होंने कहा कि “कोविड-19 के सबसे मजबूत हानिकारक प्रभाव मुख्य रूप से बाएं गोलार्ध में देखा जा सकता है।”

अस्पताल में भर्ती मरीजों की तुलना के परिणाम ‘महत्वपूर्ण नहीं थे’ लेकिन लेखकों ने कोविड-19 रोगियों के बड़े समूह के लिए ‘तुलनात्मक रूप से समान’ निष्कर्षों का उल्लेख किया, “इसके अलावा, सिंगुलेट कॉर्टेक्स में ग्रे पदार्थ का एक बड़ा नुकसान, केंद्रीय एमिग्डाला और हिप्पोकैम्पस कॉर्नू अमोनिया का केंद्रक है।”

अध्ययन डिजाइन के कारण टीम ने एक कारण संबंध को कम करना बंद कर दिया, फिर भी परिणामों में विश्वास व्यक्त किया।

टीम ने कहा, “स्वचालित, उद्देश्य और मात्रात्मक तरीकों का उपयोग करके, हम एक घर्षण और स्वाद नेटवर्क बनाने वाले लिम्बिक मस्तिष्क क्षेत्रों में भूरे पदार्थ के नुकसान के लगातार स्थानिक पैटर्न को उजागर करने में सक्षम थे।”

उन्होंने जोड़ा “क्या ये असामान्य परिवर्तन मस्तिष्क में बीमारी (या स्वयं वायरस) के प्रसार की पहचान हैं, जो इन रोगियों के लिए स्मृति सहित लिम्बिक सिस्टम की भविष्य की भेद्यता को पूर्वनिर्धारित कर सकते हैं, इसकी जांच की जानी बाकी है। “

Continue Reading
Advertisement
Dawood-Ibrahim
अपराध2 mins ago

एनसीबी ने ड्रग्स मामले में दाऊद के भाई को हिरासत में लिया

England
अंतरराष्ट्रीय8 mins ago

यूरो 2020 : चेक गणराज्य को 1-0 से शिकस्त देकर इंग्लैंड अंतिम-16 में

CBSE
सामान्य1 hour ago

12वीं बोर्ड के रिजल्ट हेतु सीबीएसई का पोर्टल

राजनीति3 hours ago

भाजपा आगामी चुनाव में मुझे बनाएं उपमुख्यमंत्री का चेहरा : संजय निषाद

अपराध3 hours ago

यूपी में तोड़ी गईं सपा नेताओं की अवैध संपत्तियां

राजनीति3 hours ago

मध्य प्रदेश में टीकाकरण में धांधली : कमल नाथ

Tejashwi-Yadav
राजनीति3 hours ago

तेजस्वी पटना पहुंचते ही जदयू पर साधा निशाना, कहा, ‘ बिहार पर ध्यान देते तो यह नौबत ही नहीं आती’

ed
अपराध3 hours ago

माल्या-चोकसी-नीरव मोदी की 9,371 करोड़ रुपये की संपत्ति बैंकों को ट्रांसफर : प्रवर्तन निदेशालय

राजनीति3 hours ago

यूपी चुनाव में लगेगा भोजपुरी सितारों के ग्लैमर का तड़का, अखिलेश से मिले खेसारी लाल

अपराध3 hours ago

भारत में मिले डेल्टा प्लस वेरिएंट के 40 केस

lockdoeo
महाराष्ट्र3 weeks ago

जानिए कहां खुलेगा सब कुछ और कहां रहेगा प्रतिबंध!, महाराष्ट्र का नया अनलॉक प्लान

Uddhav
महाराष्ट्र2 weeks ago

CM उद्धव ने प्रशासन से अलर्ट रहने को कहा, मुंबई समेत कई जिलों में भारी बारिश की आशंका

महाराष्ट्र2 weeks ago

मुंबई में भारी बारिश, कई निचले इलाकों में भरा पानी

local
महाराष्ट्र2 weeks ago

जल्द शुरू हो सकती है मुंबई लोकल, एक सप्ताह बाद फैसला संभव!

बॉलीवुड2 weeks ago

निखिल जैन से मेरी शादी वैध नहीं, हम बहुत पहले अलग हो गए थे : नुसरत जहां

driving
महाराष्ट्र1 week ago

वाहन पंजीकरण के लिए भी RTO जाने की जरूरत नहीं, अब ऑनलाइन मिलेगा लर्निंग लाइसेंस

Uddhav-Thackeray
महाराष्ट्र3 weeks ago

महाराष्ट्र में 15 जून तक बढ़ा लॉकडाउन, जानें CM उद्धव ठाकरे के संबोधन की बड़ी बातें

floower
महाराष्ट्र3 weeks ago

महाराष्ट्र के गवर्नर ने सर अनिरुद्ध जगन्नाथ की स्मृति में लगाए पौधे

Vaccination
अनन्य1 week ago

मुंबई के कांदिवली में 400 लोग हैरान-परेशान, 1400 रुपये लेकर वैक्सीन लगा गए…पर असली या नकली?

vVivo
अंतरराष्ट्रीय2 weeks ago

वीवो वाई 73 भारत में 20,990 रुपये में हुआ लॉन्च

अपराध2 years ago

झोमेटो की महिला ने गाड़ी उठा कर ले जाने पर ट्रैफिक पुलिस को दी गालियां

अपराध2 years ago

मुंबई के भायखला ई वार्ड में स्थित केएसए ग्रांड के 18वें फ्लोर से गिरी लिफ्ट, एक शख्स घायल

बॉलीवुड3 years ago

शाहरूख खान की आने वाली फिल्म जीरो का ट्रेलर इस दिन होगा रिलीज

बॉलीवुड3 years ago

पूर्व मिस यूनिवर्स सुष्मिता सेन का कभी देखा है इतना हॉट लुक

अपराध3 years ago

मुंबई लोकल से गिरी लड़की के खिलाफ आरपीएफ ने दर्ज किया केस

बॉलीवुड3 years ago

तनुश्री दत्ता के आरोपों पर अभिनेता नाना पाटेकर जल्द ही देंगे जवाब

मनोरंजन3 years ago

पीएम नरेंद्र मोदी ने शाहरूख खान को इस वजह से किया सैलूट

बॉलीवुड3 years ago

जानिए आखिर क्यों गोल्डन गर्ल आशा पारेख ने नहीं की शादी

अपराध3 years ago

मुंबई लोकल से गिरी लड़की की पहचान आई सामने, जानिए कौन है वो लड़की

अपराध3 years ago

देखिए मुंबई में हुए एक दर्दनांक हादसे का वीडियो

रुझान